डोगरी संस्था, जम्मू ते कुंवर वियोगी मैमोरियल ट्रस्ट दे सांझे प्रयास कन्नै कल टीचर भवन गांधी नगर, च जश्न-ए-वियोगी दे अंतर्गत डोगरी कविता, भरत नाटयम् ते संगीत कार्यक्रम दा अयोजन कीता गेआ। कार्यक्रम दी मुक्ख परौह्नियां जम्मू क्लस्टर यूनिवर्सिटी दियां वाइस-चांसलर प्रो. अंजू भसीन होर हियां। आए दे मेहमानें दा सुआगत डोगरी संस्था दे प्रधान प्रो. ललित मगोत्रा होरें कीता। इस कार्यक्रम गी त्रऊं हिस्से च बंडेआ गेदा हा। कार्यक्रम दी शुरूआत डोगरी मुशायरे कन्नै होई जिस च डोगरी दे शायरें देवेंद्र ठाकुर, विजया ठाकुर, रंधीर सिंह रायपुरिया, सुशील बेगाना, ते निर्मल विनोद होरें अपनी बेहतरीन रचनां पढ़ियै लोकें दी वाह-वाही लुट्टी। प्रसिद्ध नृत्यांगना श्रेयसी इस कार्यक्रम दी चेचगी रेही जि’नें पैह्ली बारी कुँवर वियोगी हुंदी डोगरी कविता ‘घंगरेल’ उप्पर भरत नाटयम् कीता। कार्यक्रम दा अाकर्शन अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त गायक श्री जितेंद्र सिंह ते लवली चंद्रा होरें कुंवर वियोगी हुंदे लिखे दे सोंनेट्स ( Sonnets ) गाइयै लोकें ही मंत्र मुग्ध करी दित्ता। संगीत दित्ते दा हा बृज मोहन ते जितेंद्र सिंह होरें। 

कुंवर वियोगी ट्रस्ट दे चेयर पर्सन गोवर्धन सिंह जम्वाल होरें बोलदे होई आखेआ जे ट्रस्ट दा उद्देश्य डोगरी भाशा गी बढ़ावा देना ते युवा पीढ़ी दी प्रतिभा गी मंच देना ऐ। उ’नें नौजुआनें गी खु’ल्ला साद्दा दित्ता जेकर कुसै च कोई प्रतिभा ऐ ते ओह् उं’दे कन्नै मिली सकदे न। कार्यक्रम दा सफल संचालन श्रीमती कुसुम टिक्कू ते धन्नवाद श्रीमती पूनम सिंह जम्वाल होरें कीता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here